Uncategorized

रतलाम मुंबई दिल्ली एक्सप्रेसवे पर मेगा इंटीग्रेटेड टेक्सटाइल रीजन विकसित होगा -मुख्यमंत्री श्री चौहान

रतलाम। मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने आज कलेक्टर सभाकक्ष में आत्मनिर्भर रतलाम के तहत बहुआयामी विकास योजना का रोड मेप 2021-26 का प्रदर्शन देखा। उन्होंने रतलाम मुंबई एक्सप्रेसवे पर अठारह हजार करोड़ रूपये के निवेश से मेगा इंटीग्रेटेड टेक्सटाइल रीजन फ़ॉर अपेरल की कार्य योजना को आगे बढ़ाने के निर्देश देते हुए कहा है कि रतलाम को प्रदेश के अग्रणी नगरों में स्थापित करना है। एक महानगर के हिसाब से आने वाले समय में इसकी प्लानिंग की जाना चाहिए। रतलाम के इस नए निवेश क्षेत्र में लगभग एक हजार आठ सौ हेक्टेयर भूमि की आवश्यकता दर्शाई गई है। जिसमें 256 हेक्टेयर भूमि निजी है। निजी क्षेत्र की भूमि पीपीपी मोड पर विकसित की जाएगी। इस निवेश से 24 हजार लोगों को रोजगार मिलेगा। कलेक्टर सभाकक्ष में कलेक्टर श्री गोपाल डांड ने आज रतलाम की वर्ष 2021 से 26 तक के विकास योजना का रोड मेप प्रस्तुत किया। कलेक्टर ने बताया कि रतलाम, दिल्ली, मुंबई रेलवे मार्ग पर महत्वपूर्ण जंक्शन है यहां से पीथमपुर की दूरी 100 किलोमीटर तथा इंदौर हवाई अड्डे की दूरी मात्र 144 किलोमीटर है। यह नगर दिल्ली, मुंबई, अहमदाबाद, सूरत आदि से बहुत अच्छे तरीके से कनेक्टेड है। बैठक में सांसद श्री गुमानसिंह डामोर, विधायक श्री चेतन्य कश्यप, श्री राजेन्द्र पाण्डे, श्री दिलीप मकवाना, सम्भागायुक्त श्री संदीप यादव, आईजी श्री राकेश गुप्ता, पुलिस अधीक्षक श्री गौरव तिवारी एवं अन्य अधिकारी मौजूद थे।
नागरिक सेवाओं को मोबाइल ऐप से प्रदान करने के निर्देश
मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान ने रतलाम नगर के विकास की विभिन्न योजनाओं का प्रेजेंटेशन देखा तथा निर्देश दिए कि रतलाम नगर में एक ऐसा पार्क विकसित किया जाए जो इस नगर की पहचान बने। जनप्रतिनिधियों एवं कलेक्टर द्वारा इसके लिए अमृत सागर तालाब योजना की जानकारी देने पर उन्होंने इस तालाब के विकास की स्वीकृति प्रदान कर दी है। इस तालाब के विकास के लिए 21 करोड़ की राशि लगेगी। मुख्यमंत्री ने बैठक में निर्देश दिए की नगरीय क्षेत्र में लोगों को नगर निगम कार्यालय के कम से कम चक्कर लगाना पड़े इसके लिए ऑनलाइन सेवाएं प्रदान करने के विषय में त्वरित गति से आगे बढ़ना चाहिए। उन्होंने इसके लिए एप विकसित करने के लिए कहा है। बैठक में कलेक्टर द्वारा बताया गया कि रतलाम नगर में प्रधानमंत्री आवास योजना के तहत 5227 आवास स्वीकृत हैं इसमें से 2737 पूर्ण कर लिए गए हैं। उन्होंने जानकारी दी कि जुलाई 2021 से रतलाम शहर में प्रतिदिन जल प्रदाय होने लगेगा। रतलाम शहर में अमृत योजना के तहत 167 किलोमीटर लंबी सीवर लाइन डाली जा रही है जिसमें से 82 प्रतिशत कार्य पूर्ण हो चुका है। यह कार्य 30 जून 2021 तक पूर्ण हो जाएगा। मुख्यमंत्री ने सीवर लाइन डालने के कारण रतलाम शहर की सड़कों की टूट-फूट की मरम्मत संबंधित ठेकेदार से गुणवत्ता पूर्ण कराने के निर्देश दिए हैं।
276 करोड़ की अन्य योजनाए स्वीकृत
बैठक में सिटी रिंग रोड के चौड़ीकरण तथा रतलाम शहर के मुख्य मार्गों के चौड़ीकरण जिन पर कुल 126 करोड़ रूपये व्यय होना है के निर्माण कार्यों को स्वीकृति प्रदान की गई। इसी तरह माणक चौक कमर्शियल काम्प्लेक्स एवं पार्किंग दो बत्ती चौराहे पर कोठारी मार्केट की भूमि पर कमर्शियल काम्प्लेक्स हाट बाजार एवं मल्टी स्टोरी पार्किंग निर्माण की स्वीकृति भी प्रदान की गई। बैठक में जानकारी दी गई कि रतलाम शहर की समस्त स्ट्रीटलाइट्स को एलईडी में परिवर्तित करने का लक्ष्य है। वर्ष 2020-21 में 15367 स्ट्रीट लाइट बदल दी गई है जिससे विद्युत बिल में 2 करोड़ से अधिक की बचत हुई है। रतलाम शहर के मध्य में स्थित 2.45 हेक्टर शासकीय भूमि के पुनर्घन्त्वीकरण की 128 करोड़ की योजना को भी स्वीकृति प्रदान की गई। इस योजना के तहत 300 बेडेड नवीन जिला चिकित्सालय ,1000 सीटर ऑडिटोरियम तथा 111 शासकीय आवास निर्मित होंगे। इसी तरह रतलाम ट्रांसपोर्ट नगर की के लिए 22 करोड़ की योजना की स्वीकृति प्रदान की गई ।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *