Uncategorized राज्य

अनुकंपा नियुक्ति पाकर मिली शोहराब शेख के उम्मीदों को नई उड़ान “सफलता की कहानी”

शिक्षा विभाग में 17 अभ्यार्थियों को मिली अनुकंपा नियुक्ति की सौगात
राज्य शासन की संवेदनशीलता के कारण शोहराब को मिला प्रयोगशाला शिक्षक का पद

इन्दौर । बुधवार को जिला शिक्षा कार्यालय में आयोजित किये गये कार्यक्रम में 17 व्यक्तियों को सांसद श्री शंकर लालवानी द्वारा अनुकंपा नियुक्ति का प्रमाण-पत्र दिया गया। इन्हीं 17 व्यक्तियों में शामिल है शोहराब शेख जिन्हें शासकीय बालक उ.मा.वि. बेटमा में प्रयोगशाला सहायक शिक्षक के पद पर नियुक्त किया गया है। शोहराब बताते है कि उनके पिता श्री शमशाद शेख की प्राथमिक शिक्षक के रूप में सेवाकाल के दौरान 27 जुलाई, 2020 को मृत्यु हो गई थी। पिता के निधन के पश्चात शोहराब के परिवार को बहुत मुशकिलों का सामना करना पड़ा। जिसके कारण शोहराब ने अनुकंपा नियुक्ति के लिये शिक्षा विभाग में आवेदन दिया। वे बताते है कि उन्हें इस दौरान काफी भय रहा की अन्य लोगों की तरह उन्हें भी अनुकंपा नियुक्ति के लिये काफी परेशानियों का सामना करना पड़ेगा। लेकिन प्रभारी जिला शिक्षा अधिकारी श्री रवि सिंह के पदभार ग्रहण करने के मात्र दो महिने में उनकी अनुकंपा नियुक्ति के आदेश जारी हो गये।
शोहराब बताते है कि उन्हें स्कूल शिक्षा विभाग से अनुकंपा नियुक्ति हेतु तीन विकल्प प्राप्त हुये थे। जिनमे से एक विकल्प था भृत्य का पद, दूसरा सहायक ग्रेड तीन के पद पर नियुक्ति हेतु सात साल प्रतिक्षा करने का विकल्प तथा तीसरा नौकरी के स्थान पर पांच साल तक वेतन लेने का विकल्प। लेकिन राज्य शासन द्वारा दिखाई गई संवेदनशीलता के कारण प्रयोगशाला सहायक शिक्षक के नये पद प्रदान किये गये जिन पर उनकी नियुक्ति संभव हो सकी। शोहराब ने राज्य शासन तथा जिला प्रशासन द्वारा प्रदाय किये गये सहयोग एवं अनुकंपा नियुक्ति के माध्यम से दिये गये इस नये अवसर के लिये आभार प्रकट किया।

सांसद श्री लालवानी ने लाभार्थियों को दिये प्रमाण-पत्र

कलेक्टर श्री मनीष सिंह ने निर्देशन एवं प्रभारी जिला शिक्षा अधिकारी श्री रवि कुमार सिंह के मार्गदर्शन में शिक्षा विभाग में पिछले कई वर्षों से लंबित अनुकंपा नियुक्ति संबंधी प्रकरणों का विशेष अभियान संचालित कर निराकरण किया गया है। इस तारतम्य में सांसद श्री शंकर लालवानी ने बुधवार को जिला शिक्षा अधिकारी कार्यालय पहुँचकर अनुकंपा नियुक्ति के लाभार्थियों को प्रमाण पत्र प्रदान किये। उक्त विशेष अभियान के माध्यम से इंदौर शिक्षा विभाग के दिवांगत कर्मचारियों के कुल 17 परिजनों की नियुक्ति की गई। इसमे 11 अभ्यार्थियों को भृत्य एवं 6 को प्रयोगशाला सहायक शिक्षक के पदों पर नियुक्त किया गया। नियुक्ति प्रमाण-पत्र पाकर सभी लाभार्थी प्रसन्न दिखाई दिये। उन सभी ने राज्य शासन एवं जिला प्रशासन द्वारा उनके प्रति दिखाई गई संवेदनशीलता और उन्हें प्रदान किये गये सामाजिक न्याय के लिये आभार व्यक्त किया।
इस अवसर पर सांसद श्री लालवानी ने नियुक्त किये गये व्यक्तियों को बधाई देते हुये कहा कि वे सभी अपने परिजनों के स्थान पर नियुक्त किये गये है। इसलिए उनका दायित्व है कि जिस जिम्मेदारी एवं निष्ठा के साथ उनके परिजनों ने अपने कर्तव्यों का निर्वाहन किया उसी जिम्मेदारी के साथ वे भी अपने जिम्मेदारियों का पालन करेंगे। उन्होंने कहा कि शिक्षा वह साधन है जिसके माध्यम से हम समाज की नयी पीडि़ का निर्माण करते है तथा उसे सशक्त बनाते है। आप सभी लोगों की इस निर्माण कार्य में एक बहुत की महत्वपूर्ण भूमिका है। उन्होंने कहा कि – “मुझे उम्मीद है कि आप अपनी भूमिका को पूरी निष्ठा एवं दृढ़ इच्छा शक्ति के साथ निभायेंगे”।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *