Uncategorized राज्य

राष्ट्रीय शिक्षा नीति लागू करने वाला मध्य प्रदेश पहला राज्य होगा -उच्च शिक्षा मंत्री डॉ.यादव

माखनलाल चतुर्वेदी राष्ट्रीय पत्रकारिता एवं संचार विश्वविद्यालय में संगोष्ठी का आयोजन


उज्जैन | उच्च शिक्षा मंत्री डॉ. मोहन यादव ने कहा कि मध्यप्रदेश में सत्र 2021-22 से राष्ट्रीय शिक्षा नीति क्रियान्वित कर लागू की जाएगी। राष्ट्रीय शिक्षा नीति लागू करने वाला मध्यप्रदेश देश का पहला राज्य होगा। मंत्री डॉ. यादव माखनलाल चतुर्वेदी राष्ट्रीय पत्रकारिता एवं संचार विश्वविद्यालय में राष्ट्रीय शिक्षा नीति और क्रियान्वयन विषय पर आयोजित दो दिवसीय राष्ट्रीय संगोष्ठी के समापन कार्यक्रम को संबोधित कर रहे थे। संगोष्ठी का आयोजन भारतीय शिक्षण मंडल नीति आयोग एवं माखनलाल चतुर्वेदी राष्ट्रीय पत्रकारिता और संचार विश्वविद्यालय भोपाल के संयुक्त तत्वाधान में किया गया।
उच्च शिक्षा मंत्री डॉ. यादव ने कहा कि मध्यप्रदेश राष्ट्रीय शिक्षा नीति के क्रियान्वयन के लिए चरणबद्ध तरीके से आगे बढ़ रहा है। प्रदेश के सभी विश्वविद्यालयों में राष्ट्रीय शिक्षा नीति के क्रियान्वयन के लिए योजना तैयार जा रही है। नई शिक्षा नीति कल का नहीं आज का विषय है। इसके क्रियान्वयन के लिये अभी से हमें आगे आना होगा। उन्होंने कहा कि प्रदेश में कोरोना के कठिन काल के बावजूद भी उच्च शिक्षा के क्षेत्र में नए कीर्तिमान स्थापित किए गए हैं। विद्यार्थियों को जनरल प्रमोशन न देते हुए कोरोना के चुनौतीपूर्ण समय में पूरे देश में स्नातक एवं स्नातकोत्तर की परीक्षाएँ कराने वाला मध्यप्रदेश पहला राज्य बना हैl ओपन बुक प्रणाली द्वारा मध्यप्रदेश में आयोजित की गई परीक्षाओं का अनुसरण दूसरे राज्यों ने भी किया है। उच्च शिक्षा मंत्री डॉ. यादव ने पत्रकारिता के विद्यार्थियों द्वारा प्रकाशित प्रायोगिक समाचार-पत्र “विकल्प” का विमोचन भी किया। संगोष्ठी की अध्यक्षता माखनलाल चतुर्वेदी राष्ट्रीय पत्रकारिता एवं संचार विश्वविद्यालय के कुलपति प्रोफेसर केजी सुरेश द्वारा की गई। इस अवसर पर मुख्य वक्ता श्री उमाशंकर पचौरी, विशिष्ट अतिथि प्रो. मजहर आसिफ, प्रो. चैतन्य प्रकाश अग्रवाल, प्रो. पवन सिंह, प्रो. राखी तिवारी सहित अन्य प्राध्यापक और विद्यार्थी उपस्थित थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *