Uncategorized राज्य

उज्जैन : कोरोना संक्रमण के केस न बढ़ें, हर हालत में आवश्यक उपाय करें

आवश्यकता होने पर लॉकडाउन लगाने पर विचार किया जाये कोरोना महामारी में प्रत्येक व्यक्ति सावधानी बरते मुख्यमंत्री श्री चौहान ने जिलेवार समीक्षा की

उज्जैन । मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान ने आज कोरोना संक्रमण के चलते हुए जिलेवार समीक्षा की। उन्होंने 50 से अधिक नये पॉजीटिव प्रकरण के आठ जिले, 50 से 20 के बीच नये पॉजीटिव प्रकरण के 14 जिले तथा 20 से कम नये पॉजीटिव प्रकरण के 30 जिलों की जिलेवार समीक्षा कर अधिकारियों को निर्देश दिये कि कोरोना संक्रमण के केस न बढ़ें। हर हालत में अपने-अपने जिले में आवश्यक सावधानियां बरतते हुए आवश्यक उपाय किया जाना सुनिश्चित करें। जिन जिलों में आवश्यकता हो, उन जिलों में लॉकडाउन लगाने पर विचार किया जाये। जिन जिलों में शनिवार की रात्रि 10 बजे से सोमवार की प्रात: 6 बजे तक लॉकडाउन लगाया गया था, उन जिलों में उक्त अवधि का लॉकडाउन लगाया जाये। वीसी में संभागायुक्त श्री संदीप यादव ने उज्जैन संभाग की कोरोना की स्थिति के बारे में अवगत कराया। कोरोना संक्रमण के रोकने के उपाय एवं की जा रही व्यवस्थाओं से अवगत कराया और कहा कि जनप्रतिनिधियों का भी अच्छा सहयोग प्राप्त हो रहा है। कलेक्टर श्री आशीष सिंह ने जिले की जानकारी देते हुए बताया कि जिले में कोरोना संक्रमण की रोकथाम के बेहतर उपाय किये जा रहे हैं और आवश्यक व्यवस्थाएं की जा रही है। जिले में मास्क एवं सोशल डिस्टेंसिंग का सख्ती से पालन कराया जा रहा है। मास्क नहीं पहनने वालों पर प्रतिदिन स्पॉट फाइन किया जा रहा है और खुली जेल में लगभग दो घंटे रखा जा रहा है। कलेक्टर श्री सिंह ने शासकीय अस्पताल के अलावा आरडी गार्डी मेडिकल कॉलेज एवं देवास जिले के उज्जैन से लगे हुए अमलतास अस्पताल के बारे में भी जानकारी से अवगत कराया।
मास्क अनिवार्य लगाना एवं सोशल डिस्टेंसिंग का पालन कराना आवश्यक
मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान ने निर्देश दिये हैं कि प्रत्येक व्यक्ति मास्क अनिवार्य रूप से लगाये। इसका अपने-अपने जिलों में कड़ाई से पालन कराया जाना सुनिश्चित करें और साथ ही सोशल डिस्टेंसिंग हो, यह भी सुनिश्चित किया जाये। मास्क नहीं लगाने वालों एवं सोशल डिस्टेंसिंग का पालन नहीं करने वालों पर जुर्माना लगाया जाये। दुकानों पर भी सोशल डिस्टेंसिंग का पालन कराया जाये और दुकानों के सामने गोल घेरे बनाकर पालन कराया जाना सुनिश्चित किया जाये। शासकीय दफ्तरों में भी मास्क पहनना सुनिश्चित हो।
जन-जागरूकता लाना आवश्यक
मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान ने निर्देश दिये हैं कि अपने-अपने जिलों में कोरोना संक्रमण को नियंत्रित करने के लिये जन-जागरूकता लाई जाये। इसके लिये धर्मगुरूओं, जनअभियान परिषद, एनसीसी, एनएसएस आदि संगठनों को जोड़कर जन-जागरूकता लाई जाये। जिन जिलों के ग्रामीण क्षेत्रों में कोरोना के केस मिले हैं, उन क्षेत्रों पर भी विशेष ध्यान देकर संक्रमण को रोकने के उपाय किये जायें। प्रायवेट अस्पतालों में कोरोना के भर्ती मरीजों की जानकारी भी जिला कलेक्टरों को होनी चाहिये। होम आइसोलेशन की सतत मॉनीटरिंग कर उनसे चर्चा की जाये। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने जिला प्रभारी अधिकारियों को निर्देश दिये हैं कि वे अपने-अपने प्रभार के जिलों के अनिवार्य रूप से दौरे करें। रंग पंचमी होने के कारण कोई चल समारोह आदि न निकाले जायें। रंग पंचमी अपने घर पर ही मनायें। अनावश्यक रूप से किसी भी हालत में भीड़ इक_ी न हो, इस पर भी ध्यान दिया जाना आवश्यक है।
मुख्यमंत्री ने प्रत्येक जिलों के जिला कलेक्टरों से अस्पतालों के बेड, ऑक्सीजन बेड, सेम्पल, टेस्टिंग, कोरोना का टीकाकरण आदि के बारे में विस्तार से जानकारी प्राप्त की। जिला कलेक्टरों ने अपने-अपने जिलों की की जा रही आवश्यक व्यवस्थाओं के बारे में पॉवर पाइंट प्रजेंटेशन के माध्यम से वीसी में जानकारी दी।
वीसी में संभागायुक्त श्री संदीप यादव, एडीजीपी श्री योगेश देशमुख, कलेक्टर श्री आशीष सिंह, पुलिस अधीक्षक श्री सत्येन्द्र कुमार शुक्ल, जिला पंचायत सीईओ श्री अंकित अस्थाना, अपर कलेक्टर श्री जितेन्द्रसिंह चौहान, यूडीए सीईओ श्री एसएस रावत, स्वास्थ्य विभाग की संयुक्त संचालक डॉ.लक्ष्मी बघेल, सीएमएचओ डॉ.महावीर खंडेलवाल तथा आरडी गार्डी मेडिकल कॉलेज के चिकित्सक उपस्थित थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *