Uncategorized देश

नवंबर में टूट सकता है 5 साल का रिकॉर्ड,ठंड बढ़ने की संभावना ?

नई दिल्ली. राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली में बुधवार की सुबह ठंड रही और न्यूनतम तापमान 10.6 डिग्री सेल्सियस तक पहुंच गया जो सामान्य से 4 डिग्री कम था. मौसम विज्ञान विभाग ने कहा कि मंगलवार को तापमान इतना कम था कि उसे ‘शीतलहर’ की श्रेणी में रखा जा सकता था, लेकिन बुधवार को ऐसा नहीं था. मैदानी इलाकों में जब न्यूनतम तापमान 10 डिग्री सेल्सियस या इससे नीचे होता है और लगातार दो दिन तक सामान्य से 4.5 डिग्री कम रहता है तब आईएमडी शीतलहर की घोषणा करता है.
मंगलवार को न्यूनतम तापमान 10 डिग्री सेल्सियस तक गिर गया था जो कि इस मौसम में सबसे कम था. आईएमडी के क्षेत्रीय पूर्वानुमान केंद्र के प्रमुख कुलदीप श्रीवास्तव ने कहा कि अगले चार से पांच दिन तक यह स्थिति बरकरार रहेगी. उन्होंने कहा कि इस साल नवंबर का महीना पिछले चार से पांच साल के मुकाबले सबसे ठंडा रहने वाला है.
ठंड बढ़ने की संभावना
सफदरजंग वेधशाला में नवंबर के पहले सप्ताह में सामान्‍य तौर पर न्यूनतम तापमान 14.8 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया जाता है. आईएमडी के अधिकारियों के अनुसार, नवंबर के अंतिम सप्ताह तक पारा गिरकर 11-12 डिग्री सेल्सियस तक पहुंचता है. वरिष्ठ वैज्ञानिक ने कहा कि अगले तीन से चार दिन में न्यूनतम तापमान के और गिरने और इकाई में दर्ज होने की संभावना है. उन्होंने कहा कि बादल छाए रहने के कारण दिल्ली में न्यूनतम तापमान में गिरावट देखने को मिल रही है. उन्होंने कहा कि हिमाचल प्रदेश में पिछले तीन से चार दिन में हिमपात होने से वहां से आने वाली ठंडी हवाओं के कारण दिल्ली का मौसम प्रभावित हुआ है.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *