प्रत्याशियों के खर्चे में सोशल मीडिया पर किए प्रचार काे भी जोड़ा जाएगा

इंदौर । प्रत्याशियों द्वारा जनसंपर्क के साथ ही सोशल मीडिया का विधानसभा चुनाव के लिए जमकर प्रयोग किया जा रहा है। दरें तय नहीं होने से चुनाव खर्च में नहीं जोड़ा जा रहा था, लेकिन अब निर्वाचन कार्यालय ने सोशल मीडिया पर हो रहे प्रचार के लिए वीडियो और ऑडियो की दरें तय कर दी है। वीडियो के लिए तय किया गया है कि एक मिनट का वीडियो होने पर प्रत्याशी के खाते में डेढ़़ लाख रुपए जोड़े जाएंगे। दो मिनट का वीडियो ढाई लाख का और तीन मिनट का वीडियो चलाया तो वह तीन लाख रुपए का पड़ेगा। इसी तरह एक मिनट का ऑडियो संदेश दस हजार रुपए का पड़ेगा। डेढ़ मिनट का 15 हजार रुपए और दो मिनट का 20 हजार रुपए का ऑडियो संदेश माना जाएगा। वॉट्सएप या अन्य सोशल मीडिया पर यदि ग्राफिक बनाकर डाला जाता है तो प्रति डिजाइन दो से पांच हजार रुपए मानी जाएगी, हालांकि इसकी अंतिम दर अभी प्रशासन को नहीं मिली है। प्रशासन की टीम लगातार सभी के सोशल मीडिया के प्रचार का हिसाब लगा रहा है, जिसे प्रत्याशियों के खर्चे में जोड़ा जाएगा।