संघ मानहानि मामला: राहुल को जमानत

नई दिल्ली । कांग्रेस नेता राहुल गांधी और माकपा महासचिव सीताराम येचुरी के खिलाफ राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के कार्यकर्ता की ओर से दायर मानहानि के मामले में मुकदमा चलेगा। दोनों ने इस मामले में स्वयं को निर्दोष बताया है। अदलत ने शिकायत पढ़ कर गांधी और येचुरी को सुनाई और पूछा कि क्या वे अपने खिलाफ लगे आरोपों को स्वीकार करते हैं या खुद को निर्दोष बताते हैं। दोनों नेताओं ने स्वयं को निर्दोष बताया। अब दोनों के खिलाफ मुकदमा चलेगा। अदालत उनके, शिकायतकर्ता और गवाहों के बयान दर्ज करेगी।
अदालत ने 15-15 हजार रुपये के मुचलके पर गांधी और येचुरी को जमानत दे दी और मुकदमे की सुनवाई के दौरान उपस्थिति से स्थाई छूट भी दी। कांग्रेस के पूर्व सांसद एकनाथ गायकवाड ने राहुल गांधी की जमानत दी। गांधी और येचुरी ने जरुरी दस्तावेजों पर हस्ताक्षर किए और अदालत से रवाना हो गए। इससे पहले जब वह सुनवाई के लिए मुंबई पहुंचे तो हवाई अड्डे के बाहर मौजूद कांग्रेस कार्यकर्ता उनके समर्थन में नारे लगाते हुए दिखाई दिए। कांग्रेस समर्थकों ने ‘राहुल तुम संघर्ष करो, हम तुम्हारे साथ हैं’ के नारे लगाए। कन्नड़ पत्रकार गौरी लंकेश की हत्या के लिए राहुल ने राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ (आरएसएस) की विचारधारा को जिम्मेदार ठहराया था। इसके बाद मुंबई के संघ कार्यकर्ता ध्रुतीमान जोशी ने फरवरी में राहुल के खिलाफ निचली अदालत में मानहानि का मुकदमा दायर किया था।