Uncategorized खेतिहर राज्य

मध्य क्षेत्र विद्युत वितरण कंपनी में सर्किल लेवल तक ई-ऑफिस प्रणाली के जरिए हो रहा है कार्य

भोपाल । मध्य क्षेत्र विद्युत वितरण कंपनी भोपाल देश की पहली यानी बिजली वितरण कंपनी बन गई है कंपनी कार्यक्षेत्र के कॉर्पोरेट से लेकर मैदानी दफ्तरों सर्किल स्तर ई-ऑफिस प्रणाली से काम शुरू हो गया है। गौरतलब है कि कंपनी ने 27 जुलाई से एनआईसी ई-ऑफिस प्रणाली के माध्यम से ई-फाइल एवं पत्राचार का काम चरणबद्ध ढंग से शुरू किया था। ऊर्जा मंत्री श्री प्रद्युम्न सिंह तोमर ने इस उपलब्धि पर कंपनी के अधिकारियों-कर्मचारियों को बधाई दी है।
ई-ऑफिस प्रणाली लागू करने में कंपनी के प्रबंध संचालक श्री विशेष गढ़पाले जो कि स्वयं कम्प्यूटर साइंस के इंजीनियर भी हैं, ने मध्य क्षेत्र विद्युत वितरण कंपनी में दो दर्जन से भी अधिक आईटी के ऐसे अनुप्रयोग लागू किये हैं जो कि देश के पॉवर सेक्टर में एक मिसाल बन गए हैं। उनके द्वारा बनाए गए ई-अनुप्रयोगों में उच्चदाब से लेकर निम्नदाब, कृषि उपभोक्ता, गैर घरेलू उपभोक्ता और अन्य श्रेणी के सभी उपभोक्ताओं को ऑनलाइन आवेदन करने पर कनेक्शन उपलब्ध कराये जा रहे हैं। इसी प्रकार ऑनलाइन बिल भुगतान के अनेक विकल्प उपभोक्ताओं को उपलब्ध कराये गये हैं जिसका करीब 10 लाख से अधिक उपभोक्ता उपयोग कर रहे हैं। गॉवों में कामन सर्विस सेन्टर के माध्यम से बिल भुगतान की सुविधा, UPAY एप, मेन्टीनेन्स एप, सेल्फ मीटर रीडिंग सुविधा, इन्टरप्राईसेस रिसोर्से प्लानिंग जैसे अनेक अनुप्रयोग कंपनी में लागू किए गए हैं। इसका उपभोक्ता और कंपनी को निरन्तर लाभ मिल रहा है। अब एएमआर मीटर रीडिंग एप, विजीलेंस एप तथा प्रयास अटेण्डेन्स प्रणाली से बिजली कार्मिक की उपस्थिति, अवकाश, वेतन तथा कार्मिक की सेवाओं से जुडें सभी कार्य अब ऑनलाइन संपादित किए जा रहे हैं।
मध्य क्षेत्र विद्युत वितरण कंपनी के प्रबंध संचालक श्री विशेष गढ़पाले ने कहा है कि कोरोना काल के दौरान लॉकडाउन की स्थिति में ऐसा अनुभव किया गया कि मध्य क्षेत्र विद्युत वितरण कंपनी के ऑफिस की कार्यप्रणाली को परम्परागत फाइल वर्क्स से ई-ऑफिस प्रणाली की तरफ शिफ्ट किया जाना चाहिए। इसी तारतम्य में तैयारियां शुरू हुईं। कंपनी के आईटी विभाग और नेशनल इंफॉरमेटिक्स सेन्टर की ई-ऑफिस प्रणाली के संयोजन से यह प्रणाली लागू की गई है, कॉर्पोरेट कार्यालय के सभी अनुभागों द्वारा ई-ऑफिस से कार्य संपादित किये जाने लगे हैं। साथ ही कंपनी के क्षेत्रीय मुख्य महाप्रबंधक एवं वृत्त कार्यालयों में भी ई-ऑफिस प्रणाली के माध्यम से काम शुरू कर दिया गया है। कंपनी के 150 से अधिक ओएण्डएम संभाग को भी ई- ऑफिस प्रणाली से जोड़ने का काम प्रगति पर है।
मध्य क्षेत्र विद्युत वितरण कंपनी ने कहा है कि ई-ऑफिस प्रणाली के लागू होने से बिजली उपभोक्ताओं के कार्य जल्दी हो रहे है, और कार्यालयीन कार्य में समय की बचत हो रही है। साथ ही भौतिक रूप से फाइल का मूवमेंट नहीं होने से मानव रहित व्यवस्था होने से संक्रमण आदि के खतरे से बचा जा रहा है। कंपनी ने सभी अधिकारियों एवं कर्मचारियों को ई-ऑफिस प्रणाली के सफल उपयोग के लिए व्यापक प्रशिक्षण दिया गया है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *