Uncategorized रतलाम

रतलाम के होनहार युवा राम वर्मा का चयन मेडिकल पढ़ाई के लिए एम्स रायबरेली में हुआ

कलेक्टर ने दो योजनाओं से सहायता राशि स्वीकृत की

रतलाम । प्रतिभा अपने रास्ते बना ही लेती है। ऐसा ही उदाहरण रतलाम के राम वर्मा ने पेश किया है। मजदुर पिता के होनहार बेटे राम वर्मा का दाखिला एमबीबीएस की पढ़ाई के लिए एम्स रायबरेली में हुआ है। राम वर्मा की इस उपलब्धि पर कलेक्टर श्री गोपालचंद्र डाड ने बधाई देते हुए जनजाति कार्य विभाग की योजना से राम को आर्थिक सहायता राशि स्वीकृत की है। राम को महर्षि वाल्मीकि प्रोत्साहन योजना से 25 हजार रूपए तथा राहत योजना से 10 हजार रूपए स्वीकृत कर दिए गए हैं। स्वीकृत राशि से एम्स कालेज में राम वर्मा के दाखिले के वक्त परिवार को बहुत मदद मिली है। रतलाम के सिलावटो के वास के रहने वाले राम वर्मा ने अपनी 12 वीं कक्षा बुरानाबाद उज्जैन के नवोदय विद्यालय से उत्तीर्ण की है। उन्होंने इसी वर्ष 2020 में नीट की परीक्षा भी उत्तीर्ण कर ली है। उनकी ऑल इंडिया रैंकिंग 32000 बनी है तथा अनुसूचित जाति केटेगरी में उनकी रैंक 712 है। मजदूर पिता अशोक वर्मा के बेटे राम वर्मा की उपलब्धि से उनका पूरा परिवार खुश है। साथ ही राम के एम्स में दाखिले के वक्त राज्य शासन द्वारा जनजाति कार्य विभाग के माध्यम से दी गई सहायता से भी परिवार बहुत खुश हैं। इसके लिए वे मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान को धन्यवाद देते हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *