क्राइम राज्य

महिलाओं के विरूद्ध घटित अपराधों की रोकथाम हेतु चलाया जाएगा

15 दिवसीय जागरूकता अभियान ”सम्मान‘, वीडियो कान्फ्रेंस के माध्यम से मुख्यमंत्री आज करेंगें अभियान का शुभारम्भ

इन्दौर । वर्तमान परिदृश्य में महिलाओं के विरूद्ध घटित अपराधों की रोकथाम एवं महिला सुरक्षा को समाज के केन्द्र बिन्दु पर लाने हेतु प्रदेश स्तरीय जन-जागरूकता अभियान “सम्मान” का प्रारम्भ किया जा रहा है । इस अभियान का शुभारम्भ मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान द्वारा आज 11 जनवरी 2021 को दोपहर 1.30 बजे वीडियो कान्फ्रेंस के माध्यम से सभी जिला मुख्यालयों पर किया जायेगा ।
एडिशनल एसपी सुश्री मनीषा पाठक सोनी ने बताया है कि सम्मान अभियान का उद्देश्य महिलाओं एवं बच्चों को सुरक्षा हेतु जागरुक करना, आपराधिक प्रवृत्ति के व्यक्तियों को सचेत कर हतोत्साहित करना, महिला एवं बच्चों की सुरक्षा में समाज की सक्रिय भागीदारी सुनिश्चित करना, महिला एवं बच्चों में सुरक्षा का भाव हो इस हेतु उन्हें उनके विरुद्ध होने वाले अपराधों के प्रति सचेत करना व अपराधों की रोकथाम हेतु ध्यान रखने वाली बातों को जन जागरूकता के माध्यम से समझाना है।
जन जागरूकता अभियान के तहत महिला एवं बच्चों की सुरक्षा हेतु विभिन्न प्रकार के पोस्टर, स्टीकर शहर के प्रमुख स्थानों पर लगाए जाएंगे तथा प्रमुख स्थानों के साथ-साथ स्कूलों, कालेजों, झुग्गी बस्तियों आदि जगहों पर भी विभिन्न स्लाइड बनाकर, जागरूकता गान, एनिमेशन क्लिप व नुक्कड़ नाटक, वाद विवाद प्रतियोगिता के साथ-साथ सोशल मीडिया आदि के माध्यम से भी जन-जागरूकता लाने के प्रयास किए जाएंगे।
महिला सुरक्षा ऑडिट के अंतर्गत जिला स्तर पर ऐसे सार्वजनिक स्थल जो कि महिला सुरक्षा की दृष्टि से संवेदनशील है, जहां पर ज्यादा अपराध घटित होते हैं, उन स्थानों का चयन कर, वहां सुरक्षा बढ़ाए जाने हेतु पुलिस, प्रशासन, नगर निगम, पंचायत, महिला बाल विकास आदि विभागों द्वारा समन्वय स्थापित कर महिला सुरक्षा की दृष्टि हेतु उन स्थानों की मॉनिटरिंग की जाएंगी और वहां पर सुरक्षा के उपबंध हेतु आवश्यक कार्रवाई का प्लान तैयार किया जाएगा।
महिला सुरक्षा हेतु जन जागरूकता अभियान के तहत विभिन्न प्रकार की प्रतियोगिताएं – पेंटिंग, क्विज, वाद विवाद, पोस्टर आदि प्रतियोगिताओं का आयोजन किया जाएगा। साथ ही इसमें मुख्य रुप से असली हीरो प्रतियोगिता भी आयोजित की जायेगी, जिसमें ऐसे लोगों का चयन किया जाएगा जिन्होंने महिला अपराध की रोकथाम में अहम भूमिका निभाई है।
सायबर सुरक्षा जागरुकता कार्यक्रमों का होगा आयोजन
इसके अंतर्गत आकाशवाणी, रेडियो, सोशल मीडिया, इलेक्ट्रॉनिक चैनल आदि के माध्यम से महिलाओं को साइबर सुरक्षा से संबंधित विषयों पर वार्ता, पोस्टर आदि के माध्यम से प्रचार-प्रसार किया जायेगा। साइबर सुरक्षा वेबीनार का आयोजन भी किया जायेगा। महिलाओं एवं किशोर युवतियों को मोबाइल सेफ्टी, सोशल नेटवर्किंग आदि की सुरक्षा में शिक्षा विभाग एवं महिला बाल विकास द्वारा भी जागरूक किया जाएगा। इस दौरान उन्हें इन अपराधों से बचने हेतु अपनाई जाने वाली सावधानियां आदि के बारे में विस्तृत रूप से बताया जाएगा।
इस अभियान के समापन के अवसर पर 26 जनवरी गणतंत्र दिवस के दिन महिला सुरक्षा से संबंधित जन जागरूकता हेतु परेड में महिला सुरक्षा अभियान “सम्मान” से संबंधित झांकी/सांस्कृतिक कार्यक्रम आयोजित किए जाएंगे। स्कूलों में महिला सुरक्षा सम्मान की शपथ दिलाई जायेगी। महिला सुरक्षा गान की धुन बजाई जाएगी और सभी इलेक्ट्रॉनिक व सोशल मीडिया के माध्यम से प्रचार-प्रसार किया जायेगा। महिला अपराध की रोकथाम में अहम भूमिका निभाने वाले प्रत्येक जिले में चयनित असली हीरो को परेड के उपरांत सम्मानित भी किया जाएगा।
इस 15 दिवसीय जन जागरूकता अभियान के तहत प्रतिदिन महिला सुरक्षा एवं उनके विरुद्ध होने वाले अपराधों से रोकथाम हेतु विभिन्न प्रकार के कार्यक्रमों का आयोजन किया जाएगा। जिसकी मॉनिटरिंग पुलिस मुख्यालय एवं जिला स्तर पर महिला अपराध शाखा द्वारा की जायेगी।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *