Uncategorized खेतिहर मंडी भाव राज्य

गेहूँ उपार्जन में पंजीयन के अनुरूप आपरेटरों को वेतन का भुगतान किया जाए

सभी अधिकारी सीएम हेल्प लाईन की शिकायतों पर फोकस करें- कलेक्टर श्री सिंह

धार । आंगनवाडी केंद्र में पूरक पोषण आहार की क्वांटिटी और क्वालिटी की लगातार मॉनिटरिंग की जाए। कुपोषण के लिए स्वास्थ्य विभाग और महिला एवं बाला विकास विभाग समन्वय स्थापित कर कार्य करें। इसके लिए महिला एवं बाल विकास विभाग द्वारा उमरबन, नालछा, मनावर, सरदारपुर, बदनावर, धार ग्रामीण के लिए तीन टीम का गठन किया जाए। कलेक्टर आलोक कुमार सिंह ने यह निर्देश जिला कार्यालय में आयोजित साप्ताहिक समय सीमा के पत्रों की समीक्षा बैठक में दिए। बैठक में मुख्य कार्यपालन अधिकारी जिला पंचायत आशीष वशिष्ट, एडीएम सलोनी सिडाना सहित सहित जिला अधिकारी मौजूद थे।
कलेक्टर ने निर्देश दिए कि सभी टीम संबंधित क्षेत्र के एसडीएम के साथ क्षेत्र में विभाग की बैठक आयोजित कर कार्ययोजना तैयार करें। इस कार्य में लापरवाही करने वाली सुपरवाईजर व समूह के विरूद्ध कार्यवाही की जाए। यह सुनिश्चित किया जाए कि सम्पर्क एप में आंगनवाडी कार्यकर्ता द्वारा लगातार डाटा फीड किया जाए। जिन केंद्र में परेशनी आ रही वहॉ की आंगनवाडी कार्यकर्ताओं को टेऊनिंग दी जाए। आज से दस्तक अभियान शुरू हो रहा है, इसकी लगातार मॉनिटरिंग कर प्रतिदिन रिपोर्ट भेजे। एनआरसी की आक्यूपेंसी शत प्रतिशत रहे इसकी लगातार मॉनिटरिंग हो। गेहूँ उपार्जन में पंजीयन के अनुरूप आपरेटरों को वेतन का भुगतान किया जाए। जो आपरेटर पंजीयन कार्य में लापरवाही कर रहे है उनके स्थान पर दूसरे आपरेटर को रखा जाए। सभी विभाग प्रमुख अपने अमले को अवगत करावे कि जिनका रजिस्ट्रेशन फ्रंट रनर में है। वे मैसेज आने के पहले भी अपना कोविड वैक्सीन का टीका लगवा सकते है।
उन्होने कहा कि सीएम हेल्प लाईन के प्रकरणों में इम्पूव करना होगा। इसमें निराकृत शिकायते की संख्या प्राप्त शिकायतों से अधिक होना चाहिए। शिकायतों में आवेदक से चर्चा कर उनका संतुष्टिपूर्ण निराकरण किया जाए। सभी अधिकारी सीएम हेल्प लाईन की शिकायतों पर फोकस करें। रोजगार मेलो के लिए आईटीआई ,आजीविका तथा पीथमपुर के गु्रप की ज्वांइट मीटिंग आयोजित करें। साथ ही टेक्नीकल फिल्ड के बच्चों के लिए अलग ग्रुप बनाया जाए। उनकी टेऊनिंग की व्यवस्था की जाए, जिससे उनकी स्कील डेवलपमेंट किया जा सके। उन्होने जल संरक्षण एवं प्रबंधन, मिलावट से मुक्ति, माफिया के विरूद्ध कार्यवाही पर विस्तार से चर्चा कर अधिकारियों को आवश्यक दिशा निर्देश दिए।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *