Uncategorized खेतिहर देश मंडी भाव

आंध्र एवं तेलगांना व कर्नाटक राज्यों की छोटि मंडियों की लाल मिर्च उत्पादक कृषक अन्य राज्यों की मंडियों में बेच रहा है कहीं-कहीं पर वायरस की शिकायत से कुछ फसलें प्रभावित होने की चर्चा

रतलाम 28 फरवरी 2021 (मोतीलाल बाफना)। कर्नाटक, आंध्र प्रदेश एवं तेलगांना राज्य में लाल मिर्च उत्पादक क्षैत्रों व जिलों की लाल मिर्ची मंडियों में आवकें अच्छी होना प्रारम्भ हो गई है और बड़ी मंडियों के आसपास  जहां-जहां पर कोल्ड स्टोरेज है वहां कोल्ड स्टोरेजों में उत्पादक कृषक, स्टाकेज, देश के व्यापारी, लोकल व्यापारियों द्वारा कोल्ड स्टोरेज में माल रखना प्रारम्भ कर दिया है ऐसी जानकारी सूत्रों से मिल रही है। लेकिन एक चर्चा ऐसी भी है कि वायरस के कारण जिन क्षैत्रों में लाल मिर्च को नुकसान हुआ है वहां के अच्छे उत्पादक कृषक अभी लाल मिर्च की अच्छी फसलों को अपने पास ही रोकने के प्रयास में लगा हुआ है । एक चर्चा और सर्वे अनुसार बाजार के भाव को सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार यदि इस वर्ष लाल मिर्च की फसलों को वायरस के कारण नुकसानी होने से फसलें प्रभावित हुई तो लाल मिर्च कोल्ड स्टोरेजों में पिछले वर्ष के मुकाबले इस वर्ष कुछ कम भी जा सकती है ऐसी चर्चा है । आं.प्र., तेलगांना $ की नई लाल मिर्च की आवकें प्रमुख मार्केट गुन्टुर, वरगंल, खम्मम, हैदराबाद, मेहबूबाबाद,येय्मीन्नूर, प्रकाशम, ताड़ेपल्लीगुड़म, नांदियाल, करनूल आदि प्रमुख मंडियों में अभी वर्तमान में जो नई फसल की मिर्च आ रही है वह अच्छी क्वालिटी की बताई जा रही है । गून्टूर मिर्च मार्केट में गून्टूर जिला, येमीन्नूर, प्रकाशम, भद्राचलम, करनूल के अलावा कर्र्नाटक के कुछ क्षैत्रों की नई लाल मिर्च भी आकर मंडी में बिक्री होने की चर्चा है। कर्नाटक में बेडग़ी, गदक, हुबलीस, सिरसी, बेल्लारी आदि अन्य छोटी बड़ी मंडियों में लाल मिर्च की आवकें हो रही है ।  लाल मिर्च का कलर और स्वाद अच्छा रहता है ऐसी चर्चा है । गून्टूर और तेलगांना की मंडियों में समाप्त सप्ताह में नई लाल मिच तेजा 11000 से 13000, डिलक्स 13000 से 13500, 355 बेडगी 12000 से 14500, सिंजेता बेडगी 11000 से 13500, डिलक्स क्वालिटी का माल 14000 के आसपास होने की चर्चा है। डीडी 12500 से 14500 और ऊपर में 14800 में बिक्री होने की चर्चा है । इसका मीडियम 10000 से 11500 के आसपास, स्वर्णा बेडग़ी क्वालिटी अनुसार 12000 से 14500 तक, 341 क्वालिटी अनुसार  12000 से 15000, नं. 5- 10500 से 13500 के आसपास और फटकी मिर्च क्वालिटी अनुसार 3000 से 7000 तक, वहीं तेलगांना की अन्य मंडियों में वंडर हंट 14000 से 16000, 1048- 10000 से 12500, दीपिका – 15000 से 17000, टेमेटो- 18000 से 23000, 334-10000 से 11500 के आसपास बिक्री रहने की चर्चा है । मार्च एवं अप्रैल माह में तेलगांना व आंध्र प्रदेश की बड़ी-छोटी लाल मिर्च की मंडियों में आवकें बढने की संभावना है । वहीं कर्नाटक के बेडग़ी मिर्च मार्केट यार्ड में डबी डिलक्स, केडीएल डिलक्स एवं बेस्ट, 2043 बेस्ट, डीडी 5531, इंडो 5, लाली, केडीएल 2043 का लालीकट आदि अन्य क्वालिटी अनुसार 9000  से 33000 के  आसपास बिकने की चर्चा है। वहीं फटकी क्वालिटी माल क्वालिटी माल 1500 से 6000 तक बिकने की चर्चा है। लाल मिर्च व्यापार सूत्रों के मुताबिक व्यापारियों में चर्चा है कि इस वर्ष भी अगर लाल मिर्च की फसलें वायरस के कारणखराब हुई और कोल्ड में माल कम गया तो इस वर्ष लाल मिर्च में स्टाकेज व्यापारियों, उत्पादक कृषकों को एक मौका अच्छा लग सकता है ऐसी भी संभावना है। महाराष्ट्र के नंद्दूरबार, नागपुर के आसपास के क्षैत्रों में भी लाल मिर्च की फसलें आ रही है जो आंध्र बार्डर के आसपास क्षैत्र है वहां पर भी अच्छी पैदावारी होने की चर्चा है। देश के बिक्री सेंटर दिल्ली, मुम्बई, पुना, हुबली, समस्तीपुर, पटना, गया,  कलकत्ता, अहमदाबाद, कानपुर, लखनऊ, बनारस, रांची, अमृतसर, इंदौर, बिडिय़ाँ (म.प्र.), अहमदनगर, शोलापुर, कोल्हापुर, सांगली, अकोला, जलगांव, नासिक, बड़ोदरा, राजकोट आदि देश के विभिन्न बड़े शहरों के मिर्च मार्केटों में जीएसटी, स्थानीय खर्च, ट्रक भाड़ा आदि खर्च अनुसार देश में मिर्च कर्नाटक, आंध्रा, तेलगांना, महाराष्ट्र की लाल मिर्च 12000 से 20000 के आसपास जनरल भाव और डिलक्स क्वालिटी  माल कर्नाटक के 15000 से 35000 रू. प्रति क्विंटल और कहीं-कहीं पर 38000 रू. प्रति क्विंटल के आसपास बिक्री होने की चर्चा है । वैसे देश का मसाला उद्योग भी अपने वार्षिक बिक्री अनुसार कर्नाटक, आंध, तेलगांना आदि राज्यों की लाल मिर्च अपने-अपने हिसाब से कोल्ड स्टोरेज में रखना प्रारम्भ कर दी है ऐसी चर्चा है ।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *