Uncategorized रतलाम

मांगल्य मन्दिर धर्म क्षेत्र प्रबंधन की मांग – झूठी और आधारहीन एफ.आर.आई दर्ज करवाने के मामले में उच्च स्तरीय जाँच की जाएं

रतलाम। मांगल्य मन्दिर धर्म क्षेत्र प्रबंधन की ओर से महामहिम राज्यपाल और मुख्यमंत्री के नाम जिला प्रशासन को ज्ञापन भेंट कर धर्म क्षेत्र सेवक सुदामा भाई और महावीर भाई के विरुद्ध अधिवक्ता राजेश बाथव द्वारा झूठी और आधारहीन एफ.आर.आई दर्ज करवाने के मामले में सप्रमाण वास्तविक स्थिति से अवगत करवाया गया है। मामले की उच्च स्तरीय जाँच के साथ एफ.आर.आई रद्द करने की मांग की गई है।
इस मामले में पुलिस अधीक्षक गौरव तिवारी एवं संयुक्त कलेक्टर मनीषा वास्कले को महिला उत्थान मंडल की भारती बहन, श्री योग वेदांत सेवा समिति से प्रेम प्रकाश बाथव तथा युवा सेवा संघ रतलाम के हितेंद्र जोशी के साथ प्रतिनिधि मंडल ने ज्ञापन भेंट कर मनगढंत घटना का पर्दाफाश करते हुए वास्तविक तथ्यों से अवगत करवाया गया है। इस सन्दर्भ में वास्तु स्तिथि का खुलासा करती एक ऑडियो सी.डी. भी दी गई है, जिससे घटना के समय और घटना की सच्चाई स्वत: ही उजागर हो जाती है लेकिन बावजूद इसके कतिपय दबाव के चलते सुदामा भाई और महावीर भाई को लगातार धमकाया जा रहा है। दिए गए ज्ञापन में बताया गया कि इस पूरे मामले में भू माफियाओं से सांठगांठ कर कानून का दुरूपयोग किया जा रहा है। मांगल्य मन्दिर धर्म क्षेत्र प्रबंधन ने सम्पूर्ण मामले से म.प्र. बार एसोसिएशन जबलपुर को भी अवगत करवाते हुए मान. न्यायालय और अधिवक्ता की गरिमा और विश्वसनीयता बनाये रखने का अनुरोध किया गया है।
यह जानकरी मीडिया को महिला उत्थान मंडल, श्री योग वेदांत सेवा समिति तथा युवा सेवा संघ रतलाम ने संयुक्त रूप से जारी प्रेस विज्ञप्ति में दी है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *