Uncategorized खेतिहर राज्य

कृषि आदान विक्रेताओं का एक वर्षीय डिप्लोमा कोर्स की प्रथम बैच का शुभारम्भ

उज्जैन । कृषि आदान विक्रेताओं का एक वर्षीय डिप्लोमा कोर्स की प्रथम बैच का शुभारम्भ 31 मार्च को नोडल ट्रेनिंग इंस्टिट्यूट कृषि विस्तार एवं प्रशिक्षण केन्द्र उज्जैन में सम्पन्न हुआ। कार्यक्रम का शुभारम्भ परियोजना संचालक आत्मा के श्री बीएस जमरा द्वारा किया गया। इस अवसर पर उन्होंने कहा कि डिप्लोमा कार्यक्रम को मैनेज हैदराबाद से सीधे मॉनीटर किया जाता है। उर्वरक, बीज एवं कीटनाशक विक्रेता को लायसेंस प्राप्ति हेतु डिप्लोमा होना आवश्यक है।
परियोजना संचालक ने यह जानकारी देते हुए बताया कि कार्यक्रम में वरिष्ठ वैज्ञानिक एवं प्रमुख कृषि विज्ञान केन्द्र के डॉ.आरपी शर्मा ने बीज, खाद एवं दवाई की गुणवत्ता से सम्बन्धित नियमों का सही ज्ञान प्रशिक्षणार्थियों को मिले और तकनीकी दक्षता एवं प्रशिक्षणार्थियों के माध्यम से किसानों को सही सलाह मिले, यही सरकार का इस डिप्लोमा को कराने का मुख्य उद्देश्य है। खाद, बीज एवं दवाई विक्रेता संघ के राष्ट्रीय प्रवक्ता श्री संजय रघुवंशी ने इस अवसर पर कहा कि प्रथम बैच में पुराने लायसेंसधारी विक्रेता एवं नवीन प्रशिक्षणार्थी शामिल हैं। कोर्स 48 सप्ताह तक संचालित किया जायेगा। कोर्स पूर्ण होने के उपरान्त मैनेज हैदराबाद के दिशा-निर्देशन में परीक्षा आयोजित की जायेगी और सफल प्रशिक्षणार्थियों को डिप्लोमा प्रदाय किया जायेगा। इस अवसर पर सम्बन्धित अधिकारी, प्रशिक्षणार्थी आदि उपस्थित थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *