Uncategorized खेतिहर रतलाम

जिला आबकारी विभाग द्वारा लक्ष्य से 29 प्रतिशत अधिक राजस्व अर्जित, जिले में मदिरा अपराधों पर प्रभावी नियंत्रण

रतलाम । रतलाम जिले में कलेक्टर श्री गोपालचंद्र डाड के निर्देशन में मदिरा अपराधों के विरुद्ध प्रभावी कार्रवाई की जा रही है, मदिरा के अवैध विक्रय एवं परिवहन पर सख्ती से नियंत्रण किया गया है।
सहायक आबकारी आयुक्त श्रीमती नीरजा श्रीवास्तव ने बताया कि कलेक्टर के निर्देश पर विभाग द्वारा जिले में अवैध शराब के विरुद्ध कडा अंकुश लगाया गया है, वहीं इस वर्ष विगत अप्रैल से लेकर अक्टूबर तक की अवधि के लिए जिले के निर्धारित लक्ष्य से 29.11 प्रतिशत अधिक राजस्व अर्जित किया गया है। उन्होंने बताया कि इस अवधि में विभाग द्वारा 1 अरब 2 करोड़ 24 लाख 45 हजार 678 रुपए का राजस्व अर्जित किया है जो लक्ष्य की तुलना में 29.11 प्रतिशत अधिक है।
सहायक आबकारी आयुक्त के मार्गदर्शन तथा नियंत्रण कक्ष प्रभारी श्री मोहन मांडरे के नेतृत्व में विभाग द्वारा अवैध शराब के विरुद्ध अभियान संचालित किया जा रहा है। आबकारी दलों द्वारा निरंतर दबिश दी जाकर अवैध शराब विक्रेताओं, संग्राहक, परिवहनकर्ताओं पर प्रभावी रूप से अंकुश लगाया गया है।

विगत वर्ष अप्रैल से लेकर अक्टूबर तक की अवधि में 30 लाख की मदिरा जब्त की थी
इस वर्ष 58 लॉख रुपए की शराब जप्त
सहायक आयुक्त ने बताया कि आबकारी विभाग द्वारा जिले में इस वर्ष के अप्रैल से लेकर अक्टूबर तक की अवधि के दौरान 1000 से ज्यादा प्रकरणों में 756 आरोपियों से 58 लाख 22 हजार रुपए की अवैध शराब जप्त की गई है। आरोपियों के 8 वाहन भी जप्त किए गए हैं जबकि गत वर्ष अप्रैल से लेकर अक्टूबर तक की अवधि में विभाग ने 925 प्रकरणों में 30 लाख 74 हजार 231 रुपए की अवैध शराब जप्त की थी। इस वर्ष के अप्रैल से लेकर अक्टूबर तक की अवधि के दौरान विभिन्न कार्यवाहियों में वृद्धि देखने में आई, न्यायालयीन प्रकरणों की संख्या 1010 है। गत वर्ष 925 प्रकरण पंजीबद्ध किए गए। हाथ भट्टी की 5904 बल्क लीटर मात्रा जप्त की गई, गत वर्ष यह मात्रा 4556 बल्क लीटर थी। विदेशी मदिरा भी इस वर्ष ज्यादा जब्त की गई है, इसमें 259 बल्क लीटर स्प्रिट तथा 202.25 बल्क लीटर माल्ट जप्त किया गया। इस वर्ष जब्त की गई लहान की मात्रा 41763 किलोग्राम है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *