Uncategorized खेतिहर देश

नई लाल मिर्च की आवकें आंध्र एवं तेलगांना में 20 जनवरी तक बढऩे की संभावना

रतलाम (मोतीलाल बाफना)। 3 दिसंबर को देश के आंध्र प्रदेश, तेलगांना, कर्नाटक आदि राज्यों में नई लाल मिर्च की आवकें कमजोर रहने की चर्चा है । एक तरफ बरसात की वजह से मिर्च फसलें प्रभावित होने के कारण बेस्ट क्वालिटी लाल मिर्च की आवक 20 जनवरी 2021 के आसपास मंडियों में आवकें होने पर ही बेस्ट क्वालिटी मिर्च कैसी आएंगी, किस तादाद में आवेगी इस पर उस वक्त की क्वालिटी और आवक पर निर्णय व्यापारी वर्ग कर पाएंगा क्योंकि बेस्ट सुपर डिलक्स मालों में निर्यातक भी उसी आधार पर अपना निर्णय लेगा । अभी से इस बाबत व लाल मिर्च की फसलों के बात आगामी वर्ष के लिए निर्णय करना व्यापारी वर्ग असमंज्स्य में है । क्योंकि कुछ व्यापारियों का मानना है कि कुछ जिलों में लाल मिर्च की फसलें जोरदार आ सकती है और इस प्रकार के व्यापारी अपने-अपने हिसाब से हरि मिर्च पैदावारी वाले क्षैत्रों में, वर्तमान पैदावारी को देखकर फोटो सोशल मीडिया पर भेज रहे है लेकिन फोटो भेजने से ही पैदावारी का अंदाजा लगाना गलत साबित हो सकता है । अभी म.प्र. में भी लाल मिर्च की फसलों को लेकर अलग-अलग विचार चल रहे है मिर्च की आवकें उस हिसाब से जोरदार नहीं हो पा रही है । भाव में इस प्रकार की लंबी तेजी होना भी एक चिंंता का विषय रहता है । अभी कर्नाटक में जो नई लाल मिर्च आ रही है वहां पर नई लाल मिर्च भी 11000 से 31000 हजार रू. प्रति क्विंटल के आसपास बिकने की चर्चा है । वहां पर कोल्ड का माल क्वालिटी 13000 से 31000 रू. प्रति क्विंटल तक बिकने की चर्चा है । वहां का माल ज्यादातर मसाला पिसाई और पिसी मिर्च के एक्सपोर्टरों के खरीदने की चर्चा रहती है । वहीं आंध्र प्रदेश के गून्टूर मिर्च मार्केट एवं तेलगांना के वरंगल हैदराबाद, खम्मम आदि मार्केटों में नई व पुरानी मिर्च की आवक हो रही है जो क्वालिटी अनुसार फटकी मिर्च सभी वैरायटी की 4500 से 9500 तक एवं कोल्ड स्टोरेज की लाल मिर्च 12500 से 18000 रू. प्रति क्विंटल तक क्वालिटी अनुसार बिकने की चर्चा है । नई लाल मिर्च की आवकें 7000-8000 बोरी के आसपास रहने की चर्चा है । नई लाल मिर्च की आवकें दिसंबर माह में 15 तारिख के बाद बढऩे की संभावना है । वास्तविक आवक का अंदाजा 20 जनवरी के बाद से ही लग पाएगा तब नई लाल मिर्च का भविष्य आगामी वर्ष में क्या रह सकता है इसकी वस्तु स्थिति सामने आने की संभावना है । अभी लाल मिर्च के मामले में लाल मिर्च के व्यापारी (आंध्र, तेलगांना और कर्नाटक) के अपने-अपने हिसाब से उन्हें जो जानकारी मिलती है उस हिसाब से वह अपनी-अपनी राय व्यक्त करते है ऐसा देखा गया है । तमिलनाडु में भी रामनाथपुरम आदि कुछ जिलों की नई लाल मिर्ल की आवक प्रारम्भ कितनी होती है और क्या भाव रहते इसकी पूरी जानकारी आने के बाद ही हम आपको कुछ भी जानकारी दे पाएंगे । वंरर्गल तेलगांना में कोल्ड स्टोरेज की टमेटो लाल मिर्च क्वालिटी अनुसार मीडियम, मीडियम बेस्ट और सुपर क्वालिटी 16000 से 19000 रू. प्रति क्विंटल तक रहने की चर्चा है ।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *