Uncategorized खेतिहर रतलाम

लायंस नेत्र चिकित्सालय पर जैन सोश्यल ग्रुप जावरा मैत्री परिवार द्वारा फुड आपरेटर सेनिटाईजर डिस्पेंजर भेंट किया

जावरा (अभय सुराणा) । जिस प्रकार फूलों के पौधे लगाने पर खुशबु और सौंदर्य अपने आप मिल जाता है फलदार पेड़ लगाने से फल और छाया अपने आप मिल जाती है। उसी प्रकार भलाई करने से मंगल आशीष एवं पुण्य अपने आप प्राप्त हो जाते हैं। आपके द्वारा संपन्न ऐसा कोई शुभ और सद्कार्य नहीं जिसके परिणामस्वरूप प्रकृत्ति द्वारा आपको उचित पुरस्कार देकर सम्मानित किया जाता हो जेसे हमारे द्वारा कुँआ खोदा जाता है तो फिर प्यास बुझाने के लिए कोई अतिरिक्त प्रयास नहीं करना पड़ता। क्योंकि कुँए का खोदा जाना ही एक तरह से प्यास बुझाने के लिए पानी की उपलब्धता भी है। जब – जब आपके द्वारा किसी की भलाई के लिए निस्वार्थ भाव से कोई कार्य किया जाता है तब – तब आपके द्वारा वास्तव में अपनी भलाई की ही आधारशिला रखी जा रही होती है। उक्त विचार जैन सोश्यल ग्रुप्स इंटरनेशनल फेडरेशन के अंतराष्ट्रीय डायरेक्टर अनिल धारीवाल ने लायंस नेत्र चिकित्सालय पर जैन सोश्यल ग्रुप जावरा मैत्री परिवार द्वारा फुड आपरेटर सेनिटाईजर डिस्पेंजर भेंट करने के दौरान कही।
इस मौके पर लायंस क्लब जावरा के सचिव पंकज कांठेड ने कहा कि हमारे द्वारा किसी बैंक में संचित अर्थ वास्तव में बैंक के प्रयोग लिए नहीं होता अपितु वो स्वयं की निधि स्वयं के खाते में स्वयं के प्रयोग के लिए ही होता है। ठीक ऐसे ही जब हमारे द्वारा किसी और की भलाई हो रही होती है तो वह अपितु हमारी स्वयं की भलाई हो रही होती है। आज तुम किसी जरूरतमंद के लिए सहायक बनोगे तो जरूरत पडऩे पर वे भी कल आपकी सहायता और सहयोग के लिए खडे होगे। उक्त जानकारी देते हुए जैन सोश्यल ग्रुप जावरा मैत्री के अध्यक्ष राजीव लुक्कड़ व पूर्व अध्यक्ष संदीप रांका ने बताया की कोवीड-19 की त्रासदी मे जेएसजी जावरा मैत्री द्वारा लायंस नेत्र चिकित्सालय मै फुड आपरेटर सेनिटाईजर डिस्पेंजर लायंस क्लब के सचिव पंकज कांठेड व पूर्व सचिव सजी वर्गीस के साथ नेत्र चिकित्सालय स्टाफ के जे. पी. श्रीवास्तव, जीवन बैरागी को भेट की गई। जेएसजी जावरा मैत्री द्वारा कोवीड 19 में लगातार सेवा कार्य करते हुए पूर्व मे सिविल अस्पताल में पी. पी. ई. किट एंव हेंड ग्लोब एंव सेनिटाईजर का वितरण के साथ कच्ची खाद्य सामग्री के 111राशन पेकेट के साथ मास्क वितरण एवं साधर्मिक परिवारों के बच्चों को स्कूल बुक्स जरुरतमंद की आवश्यकता के अनुसार मदद कि गई साथ ही लायंस नेत्र चिकित्सालय में आने वाले मरीजो की सुरक्षा के लिये फुड आपरेटर सेनिटाईजर डिस्पेंजर भेट किया गया। इस दौरान जेएसजी जावरा मैत्री सचिव दीपक मेहता, पंकज जैन, शंशाक मेहता, अभय काठेंड, आशीष चत्तर, संजय भटेवरा, लवेश लुक्कड आदी सदस्यों के साथ लायंस नेत्र चिकित्सल्य स्टाफ के सदस्य मौजूद थे।